ग्राफिक नॉवेलः नए ज़माने की नई किताबें

Garbage Binनोएडा में गेमिंग स्टूडियो चलाने वाले फैजल ने खुद को टेंशन फ्री रखने के लिए एक कैरेक्टर रचा गुड्डू- जो उनके अपने बचपन की तस्वीर थी। फैजल कार्टून बनाते और फेसबुक पर दोस्तों के बीच शेयर करते। यह इतना लोकप्रिय हुआ कि फैजल ने इसका एक फेसबुक पेज बनाया ‘गारबेज बिन’। पहले महीने दो लाइक्स हुए। इसके बाद जो हुआ वह कम से कम भारतीय फेसबुक के लिए तो इतिहास है।

आज ‘गारबेज बिन’ के छह लाख से ज्यादा लाइक्स हैं और हर पोस्ट को हजारों लाइक्स और सैकड़ों शेयर व कमेंट्स मिलते हैं। इसके बाद फैजल की पहली किताब आई ‘गारबेज बिन (वाल्यूम वन)’ जो जबरदस्त बिकी।

अब न सिर्फ अगली किताब की तैयारी है बल्कि इस कैरेक्टर पर आधारित ऐप्लीकेशन और मर्चेंडाइज भी बाजार में आ रहे हैं। फैजल की कहानी बताती है कि किताबें लोग (खासकर नई पीढ़ी) आज भी पढ़ रहे हैं बस उनका स्वरूप बदल गया है।

Comic Con India 2014फरवरी में दिल्ली में हुए कॉमिक कॉन में इस बदलाव की झलक साफ देखी जा सकती है। वक्त की कमी के कारण अब चित्रकथाएं बच्चों के बीच से निकलकर बड़ों की दुनिया में जगह बना रही हैं। ग्राफिक नॉवेल एक नया ट्रेंड है।

आक्यूपाइ वॉल स्ट्रीट और इंटरनेट सेंसरशिप के खिलाफ आंदोलनों में नजर आने मुखौटे तो आपको याद ही होंगे। कॉमिक कॉन इंडिया में ‘वी फॉर वेंडेटा’ ग्राफिक नॉवेल से पॉपुलर इस चरित्र के रचयिता डेविड लॉयड से ऑटोग्राफ लेने वालों की लंबी लाइन लगी थी। सारनाथ बैनर्जी ने सन 2004 में पहला गंभीर ग्राफिक नावेल लिखकर भारत में एक नई परंपरा की शुरुआत की थी।

इसके बाद मानता रॉय, विश्वज्योति घोष और शमिक दासगुप्ता जैसे नाम सामने आए। भारतीय मिथकों को इंटरनेशनल बाजार में बेचने की एक गंभीर कोशिश फिल्म निर्देशक शेखर कपूर और दीपक चोपड़ा ने भी जानेमाने व्यावसायी रिचर्ड ब्रानसन के साथ की थी।

कुछ असहमतियों के चलते वे अलग हो गए और लिक्विड कॉमिक्स के नाम से अलग प्रकाशन शुरु किया जो रामायण व पंचतंत्र की कहानियों के अलावा साधु और स्नेक वुमेन जैसी भारतीय कहानियों के लिए विदेशी बाजार में जगह तलाश रहा है।

Comic Con India 2014ऊपरी तौर पर हल्के-फुल्के दिखने वाले ग्राफिक नावेलों में गहरे राजनीतिक निहितार्थ भी हैं। ईरान की मारिजेन सत्रापी ने जब ‘परसेपोलिस’ नाम से अपनी ग्राफिक आत्मकथा लिखी तो ईरानी शासन की त्योरियां चढ़ गईं। लेबनान युद्ध की स्मृतियों में रची-बसी ‘वाल्ट्ज विथ बशीर’ अपने में एक दस्तावेज है। ‘वी फॉर वेंडेटा’ के बारे में सभी जानते हैं कि यह फासीवाद और तानाशाही के खिलाफ एक सशक्त रचना है।

फिल्मों पर भी इन नए दौर की किताबों का असर पड़ा है। सैफ अली खान ने जब अपनी महत्वाकांक्षी फिल्म ‘एजेंट विनोद’ रिलीज की तो एक ग्राफिक नॉवेल भी बाजार में उतारा, जिसकी भूमिका श्रीराम राघवन ने लिखी। वहीं ‘तेरे बिन लादेन’ के निर्देशक अभिषेक शर्मा ने बीते साल ‘मंकीमैन’ के नाम से एक ग्राफिक नावेल लिखा, जिस पर वे फिल्म बनाना चाहते हैं।

कॉमिक कॉन के आयोजक जतिन वर्मा करते हैं कि पब्लिकेशन के काम में धैर्य चाहिए। कैंपफायर ने ग्राफिक नावेल छापने शुरु किए और पांच साल बाद वे अपने मुकाम तक पहुंच सके हैं। पाठकों तक पहुंचना आसान नहीं है। यही वजह है कि कॉमिक कॉन जैसे आयोजनों की जरूरत पढ़ती है, जहां लोग आएं, लेखकों से मिलें, उनसे चर्चा करें।

Comic Con India 2014जतिन का मानना है कि फ्लिपकॉर्ट जैसे प्लेटफार्म के कारण पाठकों तक पहुंचना आसान हुआ है। इस जॅनर में अब हिन्दी के लेखक भी दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इंटनरेट पर छिटपुट प्रयास नजर आते हैं। उम्मीद है जल्दी ही हम एक ऐसे दौर से रू-ब-रू होंगे जब किताबें नए रंग-ढंग में पाठकों से बात करेंगी।

28 Replies to “ग्राफिक नॉवेलः नए ज़माने की नई किताबें”

  1. medicos a domicilio

    An impressive share! I have just forwarded this onto a coworker who has been conducting a little research on this. And he in fact ordered me breakfast simply because I stumbled upon it for him… lol. So let me reword this…. Thanks for the meal!! But yeah, thanks for spending some time to talk about this subject here on your web site.

  2. ceramic tile flooring

    Excellent weblog right here! Additionally your site quite a bit up fast! What web host are you the use of? Can I am getting your affiliate hyperlink to your host? I want my site loaded up as fast as yours lol

  3. Pingback: North Carolina
  4. corporate finance

    Thank you for any other informative site. Where else may just I am getting that type of information written in such a perfect way? I have a mission that I’m simply now operating on, and I have been on the glance out for such information.

  5. Online Schools

    My husband and i ended up being really more than happy Ervin could carry out his investigation because of the ideas he grabbed through the blog. It’s not at all simplistic to simply find yourself releasing ideas which often some people might have been making money from. And we also keep in mind we now have the blog owner to thank because of that. All of the illustrations you’ve made, the simple web site navigation, the friendships your site help engender – it is many great, and it’s helping our son in addition to the family reckon that this theme is pleasurable, which is exceedingly vital. Many thanks for the whole lot!

  6. Flokati Rug

    I have not checked in here for some time since I thought it was getting boring, but the last few posts are good quality so I guess I¡¦ll add you back to my daily bloglist. You deserve it my friend 🙂

  7. modern dining room

    I was just searching for this info for some time. After six hours of continuous Googleing, at last I got it in your web site. I wonder what’s the lack of Google strategy that do not rank this kind of informative websites in top of the list. Normally the top web sites are full of garbage.

  8. greentech automotive

    Hello There. I found your blog using msn. This is an extremely well written article. I’ll make sure to bookmark it and come back to read more of your useful info. Thanks for the post. I’ll certainly comeback.

  9. Cheap Soccer Jerseys

    Aw, this was a really excellent publish. In theory I’d like to compose like this also – taking time and actual effort to produce an excellent write-up… but what can I say… I procrastinate alot and in no way appear to get one thing done.

  10. canada cialis

    I really love your website.. Pleasant colors & theme.
    Did you build this amazing site yourself? Please reply back as I’m planning to create my
    own blog and would like to find out where you got this from or
    exactly what the theme is called. Kudos!

    My blog – canada cialis

  11. buy cialis in canada

    We absolutely love your blog and find nearly all of
    your post’s to be exactly what I’m looking for.
    Does one offer guest writers to write content for you?
    I wouldn’t mind publishing a post or elaborating on a lot of the subjects you
    write concerning here. Again, awesome blog!

    My webpage; buy cialis in canada

  12. additional hints

    I simply want to say I am just very new to weblog and certainly loved you’re blog. Very likely I’m going to bookmark your blog post . You definitely have exceptional stories. Cheers for revealing your website.

    • see this here

      I just want to say I am just newbie to blogging and site-building and really loved your web page. More than likely I’m want to bookmark your blog post . You really have wonderful articles. Kudos for sharing with us your webpage.

    • click

      I simply want to say I am just beginner to blogs and truly liked this web blog. Very likely I’m going to bookmark your blog post . You amazingly have superb articles. Cheers for revealing your web page.

Comments are closed.