Aankhon Dekhi - an Indian Bioscope review

हँसाने के साथ नश्तर सा चुभो जाती है ‘आंखो देखी’

फिल्‍म के एक सीन से ही शुरू करते हैं। बाबू जी (संजय मिश्रा) अपनी बेटी की शादी का कॉर्ड छपवाने के लिए जाते हैं। बाबू जी कुछ दिनों पहले ही यह फैसला ले चुके होते हैं कि वे उसी बात पर विश्‍वास करेंगे जो उन्होंने देखा है या भोगा है।

तो जब शादी का कार्ड उनके हाथ में आता है तो वह उसे अपने भोगे हुए अनुभव और सादगी से संपादित करना शुरु करते हैं। वे पहले कार्ड में किनारी हटवाते हैं। फिर ‌दर्शनाभिलाषी और विनीत जैसे नाम और फिर गणेश जी तस्वीर। उन्हें कार्ड का बैकग्राउंड भी अखरता है तो वह उसे सफेद कर देते हैं। सफेद बैकग्राउंड में छपे इस कार्ड में बस इतनी इबारत रह जाती है

“रीता की शादी अजय से फलां तारीख को फलां स्‍थान पर हो रही है।” सफेद कार्ड… न इसके आगे कुछ और न इसके पीछे कुछ। जब यही कार्ड रीता देखती हैं तो बाबू से पूछ बैठती हैं कि पैसे नहीं थे तो न छपवाते। इससे अच्छा और सजावटी तो कोर्ट का नोटिस होता है। जब रीता चली जाती हैं तो बाबू जी कहती हैं बिल्कुल शेर की तरह दहाड़ कर चली गई।

इस पर बाबू जी के अनुयायी पूछते हैं कि आपने शेर को दहाड़ते देखा है? बाबू जी को लगा कि यह बात तो सत्य है। कि उन्होंने शेर को दहाड़ते तो कभी देखा नहीं तो यह कैसे मान लें कि शेर दहाड़ता है। और बाबू जी अपनी पल्टन के साथ शहर से दूर चिड़ियाघर जाने के‌ लिए निकल पड़ते हैं कि शेर दहाड़ता है या नहीं।

जरा कल्पना की‌जिए कि जिस घर में बेटी की शादी हो उसके एक दिन पहले सारे काम छोड़कर बाबू जी अपने सारे अनुयायियों के साथ शेर को दहाड़ते हुए देखने के लिए निकल जाते हैं।

आंखों देखी फिल्म के यही छोटे-छोटे किस्से इसको हिंदी सिनेमा के 100 सालों में बनी फिल्‍म से अलग करते हैं। किसी भी प्रचलित शैली को मॉडीफाई करके उसे और बेहतर बनाना या हिट फॉर्मूलों को अपने ढंग से रिपीट कर देना हिंदी सिनेमा की पहचान रही है।

आंखों देखी इसी पहचान तो तोड़ने वाली फिल्‍म लगती है। फिल्म के कई सारे दृश्य ऐसे हैं जो पहली बाद दर्शकों को देखने को मिलेंगे। वह दृश्य कोई नए नहीं हैं उनको फिल्माने का तरीका नया है। भाई-भाई से अलग होने की कहानी हिंदी सिनेमा ने दर्जनों बार बड़े बड़े कलाकारों को लेकर दिखाई है ‌लेकिन जिस तरह का अलगाव आंखों देखी खींचती है वह अद्भुत है।

फिल्म की कहानी पुरानी दिल्‍ली के लगभग गंवई स्टाईल के बने घर में रह रहे दो परिवारों के बीच की है। बाबू जी के चार जन के परिवार के साथ उनके छोटे भाई रिषी (रजत कपूर) का परिवार उसी घर में रहता है। सब एक-दूसरे से इतने हिले-मिले हैं कि लगता ही नहीं कि कौन किसका पिता है और कौन किसका चाचा। तभी बाबू जी यह फैसला कर लेते हैं कि वह वही बात मानेंगे जो उन्होंने देखा या भोगा है। वह एक टूर एंड ट्रेवेल कंपनी में काम करते हैं।

चूंकि उन्होंने कभी न्यूयॉर्क या लंदन देखा नहीं होता है इसलिए वह अपने क्लाइंट को फ्लाइट कब कहां पहुंचेगी यह बताने से मना कर देते हैं। चूंकि ऐसा संभव तो था नहीं इसलिए बाबू जी नौकरी छोड़ देते हैं। फिल्म की असल कहानी और व्यंग्य यही से शुरू होते हैं। छोटा भाई घर के बढ़ते खर्च से किनारा करके अलग रहने लगता है। बाबूजी अकेले रह जाते हैं और कुछ अनोखे काम करते रहते हैं।

फिल्म कहानी तो दरअसल इतनी ही है। लेकिन इस कहानी के इर्द-गिर्द जो उप‌किस्से ‌बुने गए हैं वह अद्भुत हैं।

बाबू जी शहर के व्यस्त चौराहे पर एक तख्ती लेकर दिनभर खड़े रहते हैं। तख्ती पर लिखा होता है “आंखें खोलकर देखो सब कुछ यहीं हैं।” रजत कपूर ने फिल्‍म में व्यंग्य कुछ उसी तरह पिरोया है जैसे रानी नागफनी की कहानी में परसाई से पिरोते हैं। इन व्यंग्यों के बीच में ही मध्यमवर्गीय रिश्तों की टीस, उनके बीच की स्वाभाविक उठापटक और उनके बीच का प्यार रेल में सफर करते वक्त मिल और छूट रहे स्टेशनों जैसे लगता है। सबकुछ बिल्कुल स्वाभाविक और अपना सा।

यह फिल्म देखते-देखते हरिशंकर परसाई की एक व्यंग्य रचना ‘रानी नागफनी की कहानी’ बार-बार याद आती है। छोटे दृश्यों में व्यंग्य पिरोया गया है जो हंसाते-हंसाते नश्तर सा चुभा देता है। ये व्यंग्य उस मध्यमवर्गीय आंकाक्षाओं और जरूरत से उपजे होते हैं जिन्हें हम उपेक्षित भी नहीं कर सकते हैं। आंखों देखी रिश्तों के इन स्वार्थ की आलोचना तो नहीं करती है बस यह बताती है कि ऐसी स्थितियों में ऐसा-ऐसा हो सकता है।

फिल्‍म का एक और मजबूत पक्ष अभिनय है। संजय मिश्रा, रजत कपूर तो अपने पात्रों में सहज और स्वाभाविक हैं ही बाकी के छोटे पात्र अपने जरूरत भर का अभिनय कर देते हैं। हर पात्र का अंडरप्‍ले होना ही उन‌ किरदारों को बड़ा करता है। रजत कपूर की यह फिल्‍म फिल्मकारों के बीच उनकी इस धारणा को भी तोड़ेगी कि वे विश्‍व भर में रचे जा रहे है बौद्धिक सिनेमा का बॉलीवुडीयकरण करते हैं। इस मौलिक ‌फिल्म के लिए रजत कपूर की टीम को ढेरों बधाईयां।

45 Replies to “हँसाने के साथ नश्तर सा चुभो जाती है ‘आंखो देखी’”

  1. Crime scene cleaners

    An impressive share! I have just forwarded this onto a coworker who has been conducting a little research on this. And he in fact ordered me breakfast simply because I stumbled upon it for him… lol. So let me reword this…. Thanks for the meal!! But yeah, thanks for spending some time to talk about this subject here on your web site.

  2. Pingback: North Carolina
  3. Louis Vuitton Sunglasses

    I used to be just looking for this info for a while. Once six hours of continuous Googleing, finally I received it in your own website. I wonder what is the Google’s issue that does not rank this type of helpful websites closer into the leading. Normally the leading websites are full of garbage.

  4. Modern Furniture

    What i do not realize is in reality how you’re now not actually a lot more smartly-favored than you might be now. You are so intelligent. You already know thus significantly with regards to this matter, produced me individually consider it from a lot of varied angles. Its like women and men don’t seem to be interested unless it¡¦s one thing to do with Girl gaga! Your own stuffs excellent. All the time handle it up!

  5. Law School

    I wish to show some thanks to you for bailing me out of this difficulty. Because of checking through the online world and seeing views which are not beneficial, I was thinking my entire life was over. Living devoid of the approaches to the difficulties you have sorted out by means of your entire blog post is a crucial case, and the kind which may have negatively affected my career if I hadn’t discovered your web blog. Your good skills and kindness in dealing with all the pieces was helpful. I am not sure what I would have done if I hadn’t encountered such a subject like this. I am able to now look ahead to my future. Thanks a lot very much for your reliable and result oriented guide. I won’t be reluctant to suggest the website to anybody who ought to have guidance about this situation.

  6. anxiety disorders

    Thanks for another informative site. Where else could I get that type of information written in such a perfect manner? I have a mission that I am just now working on, and I’ve been on the glance out for such info.

  7. Foreign Exchange

    Wow! This can be one particular of the most useful blogs We’ve ever arrive across on this subject. Basically Great. I’m also an expert in this topic so I can understand your effort.

  8. Avenged Sevenfold

    I was just seeking this information for a while. After six hours of continuous Googleing, at last I got it in your web site. I wonder what is the lack of Google strategy that do not rank this kind of informative web sites in top of the list. Usually the top sites are full of garbage.

  9. Wireless Mouse

    I don’t even know how I ended up here, but I thought this post was great. I don’t know who you are but definitely you are going to a famous blogger if you aren’t already 😉 Cheers!

  10. Playa Del Carmen

    Thank you, I’ve just been searching for info about this subject for ages and yours is the greatest I have came upon so far. But, what in regards to the conclusion? Are you positive in regards to the supply?

  11. Fashion Clothing

    I together with my buddies ended up following the best procedures on your web page then immediately developed a terrible suspicion I had not expressed respect to the blog owner for them. These boys became so thrilled to study them and already have sincerely been tapping into these things. Appreciate your simply being very accommodating and also for making a choice on some essential resources most people are really desirous to understand about. My very own sincere regret for not expressing gratitude to sooner.

  12. Wholesale Baseball Jerseys

    I would like to show some appreciation to the writer just for bailing me out of this particular incident. After surfing around through the the web and obtaining concepts which were not beneficial, I believed my entire life was over. Being alive without the presence of strategies to the difficulties you have sorted out by way of your entire review is a serious case, and the kind that could have negatively affected my entire career if I hadn’t come across your blog post. Your main mastery and kindness in handling all areas was crucial. I don’t know what I would’ve done if I had not come upon such a thing like this. I’m able to at this time relish my future. Thanks so much for your high quality and sensible help. I will not think twice to propose your blog post to any person who needs and wants support about this matter.

  13. Pet Insurance

    whoah this blog is wonderful i like studying your articles. Keep up the great paintings! You recognize, lots of persons are searching around for this info, you can help them greatly.

  14. sterling silver jewelry

    I’m extremely impressed with your writing skills and also with the layout on your blog. Is this a paid theme or did you customize it yourself? Anyway keep up the nice quality writing, it’s rare to see a great blog like this one nowadays..

  15. airline ticket

    Wow, superb weblog format! How lengthy have you ever been blogging for? you make running a blog look easy. The total glance of your website is fantastic, let alone the content material!

  16. Online University

    hi!,I love your writing very so much! proportion we keep up a correspondence extra about your post on AOL? I need an expert in this area to solve my problem. Maybe that’s you! Looking ahead to see you.

  17. car stereo

    I¡¦ve been exploring for a little for any high-quality articles or blog posts on this sort of space . Exploring in Yahoo I ultimately stumbled upon this web site. Studying this info So i am satisfied to show that I’ve an incredibly excellent uncanny feeling I discovered exactly what I needed. I most no doubt will make certain to do not disregard this site and provides it a look on a constant basis.

  18. Kidney Disease

    I was recommended this website by my cousin. I’m not sure whether this post is written by him as nobody else know such detailed about my difficulty. You are incredible! Thanks!

  19. Silver Necklace

    Hi, i think that i saw you visited my website so i came to “return the favor”.I’m attempting to find things to improve my web site!I suppose its ok to use a few of your ideas!!

  20. modern bedroom

    You can certainly see your expertise within the paintings you write. The world hopes for more passionate writers like you who aren’t afraid to mention how they believe. All the time follow your heart.

  21. solar powered cars

    I happen to be writing to make you understand what a great experience my friend’s princess gained reading your web page. She even learned so many pieces, which include what it is like to have an awesome giving heart to get other individuals quite simply grasp various multifaceted issues. You undoubtedly did more than my expected results. Many thanks for imparting these productive, healthy, edifying and also cool thoughts on your topic to Ethel.

  22. check here

    I just want to mention I am just very new to weblog and certainly loved your blog. Most likely I’m going to bookmark your blog . You absolutely come with very good article content. Many thanks for sharing with us your website.

Comments are closed.